बीकानेर और किशनगढ़ से नई उड़ानें शुरू होंगी, राज्य और केन्द्र के बीच हुई बात, 15 जुलाई से प्रस्ताव मांगे, 15 अगस्त तक तय हो जाएगी उड़ान

बीकानेर के इन 13 हैलिपोर्ट से सेवाएं शुरू करने के लिए हैलिकॉप्टर सर्विस प्रोवाइडर्स से मांगे प्रस्ताव:
सेना क्षेत्र, बीएसएफ एरिया, सार्दुल क्लब, एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी स्टेडियम, छत्तरगढ़, खाजूवाला, देशनोक के चार हैलिपैड, रणजीतपुरा-कोलायत, बीओपी सतपाल कोलायत, जेठा राम डूडी स्टेडियम नोखा।
श्रीगंगानगर से भी हवाई सेवा शुरू होने की संभावना 

अवनीश हर्ष

आरएनई, स्टेट ब्यूरो।
बीकानेर एयरपोर्ट से नई हवाई सेवा शुरू होने की एक बार फिर संभावनाएं बन रही हैं। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया और राजस्थान सरकार के बीच इस संबंध में बात हो चुकी है। इस बातचीत के बाद एयरपोर्ट अथॉरिटी ने राजस्थान के बीकानेर और किशनगढ़ एयरपोर्ट को नई हवाई सेवाओं से जोड़ने के लिए कंपनियों से प्रस्ताव मांगे हैं। ये प्रस्ताव नागरिक उड्डयन विभाग की उड़ान योजना 5.1 के लिए देशभर के हवाई अड्डों से सेवाएं शुरू करने वाली सूची में शामिल है।

 

रुद्रा न्यूज एक्स्प्रेस ने इन प्रस्तावों के दस्तावेज खंगाले तो यह भी निकलकर सामने आया कि नागरिक उड्डयन विभाग ने इस बार देशभर में 611 हैलिपोर्ट को विकसित कर यहां से हैलिकॉप्टर सेवा शुरू करने के प्रस्ताव भी कंपनियों से मांगे हैं। इन 611 हैलिपोर्ट की सूची मे राजस्थान के 119 पोर्ट हैं जिनमें बीकानेर के 13 हैलिपैड शामिल हैं।


अगला पूरा साल चुनावी देखते हुए ऐसी संभावना है कि कंपनियां हैलिकॉप्टर सेवा देने में रुचि दिखा सकती है। ऐसे मे अगर कंपनियां रुचि दिखाती हैं तो बीकानेर से देशनोक, खाजूवाला, कोलायत, छत्तरगढ़, नोखा आदि के लिए हैलिकॉप्टर उड़ान मिल सकेगी।

राज्य और केन्द्र के बीच बनी सहमति:
नई दिल्ली में राजस्थान सरकार के आवासीय आयुक्त धीरज श्रीवास्तव ने बताया कि मुख्य आवासीय आयुक्त शुभ्रा सिंह और नागर विमानन मंत्रालय के सचिव के बीच हुई कई दौर की बातचीत के बाद राजस्थान में स्थित एयरपोर्ट्स के विस्तार, विकास और उन्हें पर्यटन की दृष्टि से उपयुक्त बनाने के कार्यों में काफी सफलता मिली है। इसी कड़ी में केंद्र सरकार ने राजस्थान के बीकानेर और किशनगढ़ एयरपोर्ट्स से और ज्यादा हवाई उड़ानें शुरू करने तथा अधिक से अधिक विमानन कंपनियों को यहां से फ्लाइट ऑपरेट करने की स्वीकृति देने के लिए बिडिंग प्रक्रिया शुरू कर दी है। यह प्रक्रिया 15 जुलाई तक चलेगी और उम्मीद है कि 15 अगस्त तक इन दोनों एयरपोर्ट्स से और अधिक उड़ानें शुरू करने के लिए कंपनियां सामने आएंगी और नई उड़ाने चलेंगी।

श्रीगंगानगर जाएगा केन्द्र-राज्य दल:
धीरज ने बताया कि केंद्र सरकार की रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम, उड़ान में गंगानगर एयरपोर्ट को भी शामिल किया गया था। अब गंगानगर एयरपोर्ट से भी कई विमानन कंपनियों ने फ्लाइट ऑपरेट करने में रुचि दिखाई है। इसके लिए अब एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया और राज्य सरकार के संबंधित अधिकारियों का एक संयुक्त निरीक्षण दल वहां भेजने की स्वीकृति हुई है। जल्द ही यह दल वहां जाएगा तथा सभी पहलुओं पर गहनता से विचार करेगा।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Back to top button
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129